अनमोल वचन
0

!! वर्ष 2017 चातुर्मास मुम्बई गोरेगाँव में !!

गोमटेश्वर बाहुबली... की अमर गाथा... पहली बार दिगम्बर जैन संत के मुखारविंद से... मुम्बई महाराष्ट्र की पावन धरा में... तपोभूमि प्रणेता मुनिश्री प्रज्ञा सागर जी महाराज के द्वारा.. आओ सुने इस सदी के सबसे बड़े महाकुंभ श्रवणबेलगोला गोमटेश्वर बाहुबली महामस्तकाभिषेक 2018 के महानायक महामना भगवान श्री बाहुबली की अमर कथा...सुनने के लिए जरूर पधारे... श्री [...]
20232417_262864247547253_6637981073569793871_o
19787075_1902284673364345_3550541667276319909_o

गोमटेश्वर बाहुबली… की अमर गाथा…

पहली बार दिगम्बर जैन संत के मुखारविंद से…
मुम्बई महाराष्ट्र की पावन धरा में…
तपोभूमि प्रणेता मुनिश्री प्रज्ञा सागर जी महाराज के द्वारा.. आओ सुने इस सदी के सबसे बड़े महाकुंभ श्रवणबेलगोला गोमटेश्वर बाहुबली महामस्तकाभिषेक 2018
के महानायक महामना भगवान श्री बाहुबली की अमर कथा…सुनने के लिए जरूर पधारे…
श्री पार्श्वनाथ दिगम्बर जैन मंदिर , गोरेगाँव वेस्ट ,मुम्बई महाराष्ट्र में..आना ना भूले…प्रतिदिन..सुबह -8:30 बजे से…
और घर बैठे सुनने के लिये… जाये…
YouTube में टाइप करे..Tapobhumi Praneta और subscribe करें… और प्रतिदिन अपने मोबाइल पर ही पुण्यार्जन करे…
जय गोमटेश-जय बाहुबली…

 — with Tapobhumi Praneta App Jain.

WhatsApp Image 2017-07-06 at 20.05.13

!! अनोखा मानस्तम्भ परमेष्ठी कलश !!

हर वर्ष की तरह…इस वर्ष भी होगा  तपोभूमि प्रणेता के चातुर्मास का अनोखा मँगल कलश…
इस बार.. मानस्तम्भ परमेष्ठी कलश की होगी…मुम्बई गोरेगाँव (वेस्ट) में.. स्थापना..
इस अनोखे कलश में है अनेकों खूबियाँ…
- स्वर्ण एवं चाँदी युक्त इस कलश में परमेष्ठी के प्रतीक पांच कलश है…चार कलशों को रजतमय चार हाथीयों ने अपने ऊपर विराजमान कर रखा है और ठीक चार कलशों के ऊपर चार इंद्रों द्वारा मनमोहक छतरी नुमा वेदी मे मुख्य कलश को विराजमान किया गया है…
- जयपुर के कारीगरों द्वारा इसे बहुत ही कम समय में बनाया गया है…
- इसके अलावा इस कलश को बनाने में शुद्ध चाँदी का उपयोग किया गया है…
- तपोभूमि प्रणेता मुनिश्री प्रज्ञा सागर जी महाराज द्वारा स्थापित किया जाने वाला ये कलश अदभुत चमत्कारिक बीजाक्षरों से युक्त अनेकों मंत्रों ,यंत्रों से युक्त है…इसके पत्तियों तक में यंत्र एवं मंत्रो को अंकित किया गया है जो सुख समृद्धि ऐश्वर्य वैभव वर्धक है…
- मंगलकारी इस मँगल कलश की 9 जुलाई को भव्य कलश स्थापना समारोह में भाग्यशाली परिवार द्वारा स्थापित किया जायेगा… जिसके समक्ष लाखों करोड़ों जाप्य एवं हवन द्वारा आहुतियाँ दी जाएंगी…
- इसके साथ ही चार और मंगल कलशों की भी स्थापना की जायेगी..वह अति मनोहारी कलाकृति युक्त है…
- मुम्बई के पहली बार चातुर्मास करने जा रहे युवा सन्त मुनि श्री प्रज्ञा सागर जी महाराज देश में पहली बार इस अदभुत अनोखे कलश की स्थापना करने जा रहे है…
उल्लेखनीय है कि इस तरह के अनोखे कलशों की स्थापना करने की प्रेरणा मुनिश्री ने ही प्रारम्भ की थी वर्ष 2009 जयपुर चातुर्मास से…तब से अब तक अनेकों अदभुत अनूठे कलशों की स्थापना की जा चुकी है..आज यदि पूरे देश में …मनोहारी हाथियों पर कलश की स्थापना एवं स्वर्ण कमल पर कलश , कभी मोर पर कभी हंसों पर..कभी गजरथ पर कभी नवग्रह कलश तो कभी *शुद्ध स्वर्ण से बने कलश ..
- अनेको तरीको से बने सुंदर कलश की रचना की जा रही है वो मुनि श्री की अनुपम प्रेरणा का ही नतीजा है…
इस बार आप सभी मुंबई गोरेगाँव वेस्ट जवाहर नगर में होने जा रहे मुनिश्री के 29 वे चातुर्मास कलश स्थापना में आकर एक बार इस अनोखे कलश के दर्शन जरूर करे..

deee74d6-4aa6-4c53-b6c3-8b79ceefc46b

विमोचन

आज 19-06-2017 मुनि श्री प्रज्ञा सागर जी महाराज के सानिध्य में ..
आगामी 9 जुलाई से प्रारंभ होने जा रहे..
तपोभूमि प्रणेता के 29वें मुम्बई चातुर्मास की ..
आमंत्रण पत्रिका का विमोचन किया गया…
2 जुलाई को भव्य गोरेगाँव मुम्बई मँगल प्रवेश
9 जुलाई रविवार को सुबह 8 बजे से…
गुरु पूर्णिमा महोत्सव
एवं दोपहर 1 बजे से…
देश में पहली बार स्थापित होने जा रहा है…
चातुर्मास परमेष्ठी कलश स्थापना
आप सभी सविनय सादर आमंत्रित है…

15826815_127952691038410_1197329940095919261_n
15894235_127952464371766_8515079332569981275_n
15894754_127952551038424_7252916263780647982_n

!! पंच कल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव !!

15844899_134843657015980_5426958289130667423_o

श्री 1008 पार्शनाथ जिनबिंब पंच कल्याणक प्रतिष्ठा एवं गजरथ महोत्सव

बहुत ही लम्बे इंतज़ार के बाद गुमास्ता नगर इंदौर वालो के भाग्य जागने जा रहे है..क्यों की उनके नगर में तपोभूमि प्रणेता जो आने वाले है …
क्या तुम्हे पता है ऐ लोगो …
गुरुवर आने वाले है..कलियाँ ना बिछाना राहो में..भक्त खुद को बिछाने वाले है..
इंदौर में गुरुदेव के आने की तैयारियाँ ज़ोरो पर है …नगर नगर से सभी भक्त मिलकर इस बार मुनिश्री प्रज्ञा सागर जी महाराज का भव्य मँगल प्रवेश करायेंगे..
सुबह 8 बजे महू नाका से भव्य शोभा यात्रा प्रारंभ होगी …और गुमास्ता नगर जैन मंदिर में भव्य अगवानी के साथ सम्पन होगी जहाँ पर मुनिश्री के पाद प्रक्षालन एवं मँगल आशीर्वचन के साथ स्वागत समारोह आयोजित किया जायेगा…मुनि श्री के स्वागत के लिए सभी कॉलोनियों के महिला मंडलों द्वारा मँगल कलश लेकर शोभा यात्रा की शोभा बढ़ाएंगी तो अनेको थालों में मुनिश्री का पाद प्रक्षालन किया जायेगा..
तो सुबह 8 बजे अधिक से अधिक भक्तगण पहुँच कर भव्य अगवानी करें…
आओ जी पधारो म्हारे मालवा मा..
15977863_134315260403753_5878526977167636792_n

तपोभूमि प्रणेता गुरुदेव मुनि श्री प्रज्ञासागर जी महाराज गुमास्ता नगर पंचकल्याणक की पूर्व संध्या पर प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए.

घट यात्रा प्रारंभ  विशाल जन समूह  पंचकल्याणक की  एतिहासिक शुरुआत

सुनो जी माँ ने देखे सोलह सपने…जाने उनका..फल क्या होगा…
तपोभूमि प्रणेता के सानिध्य में चल रहे …इंदौर गुमाश्ता नगर पंच कल्याणक प्रतिष्ठा महोत्सव में …
“गर्भ कल्याणक” में उमड़ता अपार जन समूह…

प्रज्ञासागर जी महाराज

There are 0 comments

Leave a comment

Want to express your opinion?
Leave a reply!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <strike> <strong>